9FEB

PATNA 2020

"Fill your life with adventures, not things. Have stories to tell, not stuffs to show."

अगर कही घुमने का जिक्र हो और वहाँ बिहार के बच्चे पीछे रह जाये ऐसा मुमकिन ही नहीं है | इतनी जनसंख्या से भरा प्रदेश बिहार में कुछ खास है तो वह है पाटलिपुत्र | जिसे गंगा नदी के साथ कई दार्शनिक स्थल ने सौंदर्य दिया है | जब यहाँ शाम ढलती है तो आस पास के होटलों – रिजार्ट की बत्तियाँ भी काफी सुहानी लगती है | दिन भर गाड़ीयों कि गुंजो के बीच पैदल चलने का मज़ा ही कुछ और है| यहाँ के लिट्टी चोखा काफी नामी व्यांजनो में से एक है | अब चलिए यहाँ कुछ खाते है और अगर खाने का मन नहीं तो चलते है कही घुमा जाये |

microsoft_blog_khabai_tech      microsoft_blog_khabai_tech

सबसे पहले पाटलिपुत्र संग्रहालय का भ्रमण करते है | जहाँ काफी पुरानी- पुरानी दर्शन योग्य वस्तुए है | जिसे देख आपके दिल काफी खुश हो जायेगा | इस स्थल कि बड़ी बड़ी दिवाले (चहारदीवारी) काफी लुभावने लगते है | जहाँ पर स्वछता का काफी ध्यान रखा गया है | आस पास साफ स्वक्ष रहता है | चहारदीवारी के अंदर लगी पुष्पों कि कतारे इतनी जालिम है कि जिसे मैंने अभी तक भुला ही नहीं | संग्रहालय के अंदर शिल्पकारो का भी काफी मान रखा गया है | शिल्पकार अपनी हस्त कला से काफी सौंदर्य वस्तुओं का भी निर्माण करके रखे है | यहाँ पर तो मिथिला पेन्टिंग, मधुबनी पेन्टिंग, और टिकुली पेन्टिंग का तो काफी अलग रूप है | जिसे देख यह प्रतीत होता है कि यहाँ कलाकरो (कला) कि कोई कमी नहीं है |

microsoft_blog_khabai_tech      microsoft_blog_khabai_tech microsoft_blog_khabai_tech

आप दंग तो तब हो जायेंगे जब वन्य जीवो के प्रतिमाएं देखेंगे | ऐसा लगता है जैसे कि सच में ये जीव हमारे पास खड़े है | जीवो के साथ पहाड़ और जंगलो का भी काफी ख्याल रखा गया है | इसके ठीक बगल में राजवंश का भी वर्णन किया गया है | जहाँ पर राजसिंहासन, मौर्यालकाल कि मुद्रायें, राजदरवार कि पूजा स्थल का काफी मनोरम चरित्र चित्रण किया गया है | इसके राजवंश के बहुत सारी वस्तुएँ भी है | जिसे आप जायेंगे तो खुद देख लेंगे |

microsoft_blog_khabai_tech
microsoft_blog_khabai_tech

थोड़ी दूर आगे जाने पर बहुत सारी ऐतिहासिक वस्तुएँ भी है | जिसे देख अपने आप में बिहारी होने पर गर्व महसूस होता है | देवकाल की कई प्रतिमाये भी है | यहाँ पर पुरातत्व विभाग ने खनन में निकले कई मुहरे, दिवाले के साथ साथ भगवान बुद्ध का भी होने का एह्साह दिलाते है | अंतिम में अंग्रेजी शासकों से शोषित भारत का भी दर्शन किया, जिसे देख आँखों में आंसु भर आये | किस तरीके से उन्होंने सोने की चिड़ियाँ (भारत) को लूटकर आज भारत को खोखले कर दिया | इस संग्रहालय में अंग्रेजी शासकों के कई प्रकार के असहले (हथियार), पुस्तक भी रखा गया है | जिसे देख मेरा तो खून खौल गया |

microsoft_blog_khabai_tech      microsoft_blog_khabai_tech

! धन्यवाद ! इस परिभ्रमण में KHABAITECH TEAM के साथ इसके CEO PRINCE CHAUHAN SIR का स्नेहपूर्वक साथ रहा |